what is web hosting in hindi me ( web होस्टिंग क्या है?) हिंदी में।

हमने पिछले पोस्ट में जाना था कि what is seo and how it works, seo in hindi me( हिंदी में जानकारी) but आज हम जानेंगे “what is web hosting in hindi ( web होस्टिंग क्या है?) हिंदी में।”

what is web hosting in hindi ( web होस्टिंग क्या है?) हिंदी में।

Internet पर हमारे blogs या website को रहने की जगह को web hosting कहते है। जैसे कि आपको कोई website या blogs open करनी है। तो आपको आपने website के file जैसे videos, photo, music, text इत्यादि को रखने की जगह जरूरत होती हैं । और जब हम वेब होस्टिंग खरीदते हैं तो हमे Internet पर एक स्पेस यानी जगह मिल जाता है। जहाँ हमारी सारी फ़ाइल को स्टोर करके रखते है। और जो कंपनिया हमारे website के फ़ाइल को रखने को जगह देती है उसे हम web hosting compny कहते है।

Web hosting हमें क्यो लेनी चाहिए। hindi me।

Web hosting kya hai hindi me

आपके पास किसी भी प्रकार की जानकारी है । और उसे आप दूसरों के साथ share करना चाहते है । तो आपको एक domain name और web होस्टिंग लेनी चाहिए। क्योंकि Internet ही एक ऐसा माध्यम है। जिसका use करके आप लोगो के बीच अपनी पहचान बना सकते है। और अपनी जानकारी दूसरों के साथ share कर सकते है।

Web hosting कितने तरह के होते है हिंदी में।

Web hosting ऐसे तो बहुत प्रकार के होते है। उनमे से जो मुख्य है । उन्हें हम जानेगे।

  1. Shared web hosting
  2. Vps ( virtual private server )
  3. Dedicated web hosting
  4. Cloud web hosting
  • Shared web hosting- आप किसी दूसरे शहर में work करने के लिए जाते है। तो आपको रहने के लिए एक रूम की जरूरत होती है। तो आप अपने दोस्तो के साथ मिलकर एक रूम लेते है। यानी आप अपना रूम अपने दोस्तो के साथ शेयर करते है। ठीक उसी प्रकार share web hosting work करता है। इस होस्टिंग में एक ही server होता है । जहाँ हजारो website की फ़ाइल एक ही server पर स्टोर होता है। इसलिए इस वेब होस्टिंग का नाम शेयर्ड वेब होस्टिंग रखा गया है। इसका इस्तेमाल नए bloggers करते है। और इसकी कीमत किसी अन्य web hosting से कम होती है।
  • Vps web hosting- यह hosting एक फ्लैट की तरह होता है। जहाँ की सारी चीजों पर केवल आपका ही अधिकार होता है। जिसमे किसी का भी shareing नही होता। vps hosting में visualization technology का प्रयोग होता है । जिसमे एक strong और secure server को virtually अलग-अलग हिस्सों में डिवाइड कर दिया जाता है but हर एक virtual server के लिए अलग-अलग resource का प्रयोग किया जाता है । जिससे आपकी blogs या website को जितना resource की ज़रूरत होगी वो उतना use कर सकता है। यहाँ पर आपको किसी अन्य वेबसाइट के साथ share नही करना पड़ता । इसलिए आपकी website पेज स्पीड कभी भी स्लो नही होती । पर vps hosting आपको थोड़ी महंगी पड़ेगी।
  • Dedicated web hosting- यह hosting एक पूरे मकान की तरह होता हैं। जहाँ पर किसी दूसरे का कोई अधिकार नही होता। उसी तरह डेडिकेटेड वेब होस्टिंग में आपको एक अलग server मिलता है। जो कि उस server को केवल आप ही इस्तेमाल कर सकते है। कोई दूसरा इसका इस्तेमाल नही कर सकता हैं। और इस होस्टिंग की परफॉर्मेंस बहुत ही अच्छी होती इसलिये ये हाई ट्रैफिक वेबसाइट के लिए बहुत अच्छी होती है। but ये web hosting महँगी होती है। इसे कोई new bloggers अफॉर्ड नही कर सकता।
  • Cloud web hosting- यह hosting को सबसे बेस्ट web hosting माना जा रहा है। और यह high traffic को आसानी से हैंडल कर सकता है। क्योंकि इसमें बहुत सारे server group में मिलकर सिर्फ एक website के लिए काम करते है जिसकी वजह से आपकी website के शटडाउन होनी की चांसेज न के बराबर होती है। और यह आपकी website को secure भी करता है। लेकिन ये web hosting सबसे महंगी होती है।

अभी हमने जाना type of web hosting in hindi me।(वेब होस्टिंग कितने प्रकार के होते है ।हिंदी में।) but आज का टॉपिक है। what is web hosting in hindi me ( web होस्टिंग क्या है?) हिंदी में। तो चलिए कुछ और जानते है। इसके बारे में।

Type of web hosting in hindi me

Linux vs window hosting में क्या अंतर है।

  1. Linux operating web hosting
  2. Window operating web hosting

Web hosting को operating sistem के आधार पर दो भागों में बाँटा गया है।

जब हम कोई web hosting लेने जाते है। तो हमे दो ऑप्शन मिलते है। पहला Linux Web hosting और दूसरा window web hosting इनमे से हमे कौन सा web hosting लेना चाहिए।

  • Linux operating system- linux operating web hosting हमे थोड़ी सस्ती मिलती है। और ज्यादातर लोग एजे ही लेते है।क्योंकि linux open source operating system होती है।
  • Window operating system-window operating की hosting हमे liuxe operating के मुकाबले थोड़ी महँगी होती है। क्योंकि इसमे लाइसेंस का इस्तेमाल होता है। इस वजह से आपकी साइट को सिक्योर करता है।

Hosting खरीदते समय हमें कुछ बातों का धयान रखना चाहिए।

Costomer services

हर web hosting compny 24×7 कस्टमर स्पोट का दावा करती है। लेकिन कुछ ही ऐसी compny है। जो इसे पूरा करती हैं। इसलिए होस्टिंग लेते time कंपनी के बारे में पूरी तरह जानने के बाद ही होस्टिंग खरीदे।

Uptime

जब हम कोई website को बार बार ओपन करने की कोसिस करते है पर वो वेबसाइट open नही हो पाता। क्योंकि उस time server down होता है। उसे down time भी कहते है। इसलिए आप 99℅ से ऊपर जो कंपनी uptime देती हो वही से खरीदे।

Web space

हमे अपनी website को ध्यान में रखकर ही चुने। अगर आपको काम स्पेस की जरूरत है। तो आप अपने हिसाब से चुन सकते है। लेकिन कभी भी लिमिट web space का चुनाव आप न ही करे अनलिमिटेड web space वाला प्लेन ही ले।

Bandwidth

यूजर को ध्यान में रखकर ही Bandwidth को चुने। अगर आप 10gb, 30gb, 50gb का चुनाव करते है और आपका यूजर उसे ज्यादा है। तो नुकसान आपका ही होगा। इसलिए Bandwidth हमेशा अनलिमिटेड वाला ही प्लान ले।

दोस्तो हमारा आज का टॉपिक what is web hosting in hindi me ( web होस्टिंग क्या है?) हिंदी में। आपको कैसा लगा हमे comments के जरिये जरूर बताएं। और इसे शेयर करे। धन्यबाद……..

<

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *